मोदी का राजतिलक, मंत्रिमंडल में हुए कई महत्वपूर्ण परिवर्तन

पीएम मोदी का नया मंत्रिमंडल, मोदी का राजतिलक, मंत्रिमंडल में हुए कई महत्वपूर्ण परिवर्तन, पीएम नरेंद्र मोदी, बीजेपी सरकार, नरेंद्र मोदी, PM Modi's new cabinet, Modi's coronation, many important changes in the cabinet, PM Narendra Modi, BJP government, Narendra Modi,

नई दिल्ली। नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री के रूप में तीसरी बार शपथ लेते ही इतिहास रच दिया है। पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में नई सरकार के गठन के साथ ही मंत्रिमंडल में कई महत्वपूर्ण परिवर्तन और नए चेहरे शामिल किए गए हैं। मोदी भारतीय राजनीति के दूसरे ऐसे नेता बन गए है जिन्होंने लगातार तीसरी बार पीएम पद की शपथ ली है। पीएम मोदी के नए मंत्री मंडल में हर वर्ग को साधने की कोशिश की गयी है। जो यह सुनिश्चित करता है कि सरकार हर वर्ग का सम्मान और समावेशी विकास के प्रति प्रतिबद्ध है।

बीजेपी सरकार ने रचा इतिहास

नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री के रूप में तीसरी बार शपथ लेते ही इतिहास रच दिया है। मोदी भारतीय राजनीति के दूसरे ऐसे नेता बन गए है जिन्होंने लगातार तीसरी बार पीएम पद की शपथ ली है। इससे पहले केवल भारत में पहले प्रधानमंत्री पंडित नेहरू ने यह कारनामा किया था। भारतीय जनता पार्टी के प्रमुख नेता, मोदी ने अपने करिश्माई नेतृत्व और व्यापक जन समर्थन के बल पर लगातार तीसरी बार सत्ता हासिल की है।

मंत्रिमंडल में शामिल हुए कई अन्य नए चेहरे

पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में नई सरकार के गठन के साथ ही मंत्रिमंडल में कई महत्वपूर्ण परिवर्तन और नए चेहरे शामिल किए गए हैं। नई कैबिनेट का गठन इस प्रकार किया गया है कि वह देश की वर्तमान चुनौतियों और अवसरों का प्रभावी ढंग से सामना कर सके, कैबिनेट के प्रमुख चेहरों में राजनाथ सिंह, अमित शाह, एस जयशंकर, नितिन गडकरी, निर्मला सीतारमण जैसे नाम शामिल है। गठबंधन के साथियों की ओर से मंत्रिमंडल में टीडीपी नेता राम मोहन नायडू और चंद्रशेखर पेम्मासानी जैसे नाम शामिल है। साथ ही चिराग पासवान और जीतन राम मांझी जैसे नाम भी शामिल है।

Modi Cabinet 3.0 प्रधानमंत्री मोदी के मंत्रिमंडल में विशेषज्ञता और दूरदर्शिता के साथ युवा जोश भी दिख रहा है। मंत्रिमंडल में 30 कैबिनेट मंत्री, 5 स्वतंत्र प्रभार वाले राज्य मंत्री और 36 राज्य मंत्री शामिल हैं। हाल ही में मोदी को राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) का नेता चुना गया था। बता दें कि लोकसभा चुनाव 2024 में एनडीए ने बहुमत हासिल कर सरकार बनाने का दावा पेश किया था। एनडीए में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अलावा विभिन्न क्षेत्रीय और राष्ट्रीय दल शामिल है। बता दें कि दिवंगत अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व में एनडीए सरकार ने 1999 से 2004 तक देश की बागडोर संभाली थी।

वर्ग मंत्रियों की संख्या

अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC)   27
अनुसूचित जाति (SC)       10
अनुसूचित जनजाति (ST) 05
अल्पसंख्यक    5
वरिष्ठ मंत्री    18

पीएम मोदी का नया मंत्रिमंडल

1. राजनाथ सिंह
2. अमित शाह
3. नितिन गडकरी
4. जेपी नड्डा
5. शिवराज सिंह चौहान
6. निर्मला सीतारमण
7. सुब्रह्मण्यम जयशंकर
8. मनोहर लाल खट्टर
9. एच.डी. कुमारस्वामी
10. पीयूष गोयल
11. धर्मेंद्र प्रधान
12. जीतन राम मांझी
13. राजीव रंजन सिंह (ललन सिंह)
14. सर्बानंद सोनोवाल
15. डॉ. वीरेंद्र कुमार
16. राम मोहन नायडू किंजरापु
17. प्रह्लाद जोशी
18. जुएल ओरांव
19. गिरिराज सिंह
20. अश्विनी वैष्णव
21. ज्योतिरादित्य सिंधिया
22. भूपेन्द्र यादव
23. गजेन्द्र सिंह शेखावत
24. अन्नपूर्णा देवी
25. किरेन रिजिजू
26. हरदीप सिंह पूरी
27. डॉ. मनसुख मंडाविया
28. जी. किशन रेड्डी
29. चिराग पासवान
30. सी.आर. पाटिल

राज्य मंत्री- स्वतंत्र प्रभार

31. राव इंद्रजीत सिंह
32. डॉ. जितेन्द्र सिंह
33. अर्जुन राम मेघवाल
34. प्रतापराव जाधव
35. जयंत चौधरी

राज्य मंत्री

36. जितिन प्रसाद
37. श्रीपद यशो नाइक
38. पंकज चौधरी
39. कृष्णपाल गुर्जर
40. रामदास अठावले
41. रामनाथ ठाकुर
42. नित्यानंद राय
43.अनुप्रिया पटेल
44. वी सोमन्ना
45. चंद्रशेखर पेम्मासानी
46. प्रो. एसपी सिंह बघेल
47. शोभा करंदलाजे
48. किर्तिवर्धन सिंह
49. बनवारी लाल वर्मा
50. शांतनु ठाकुर
51. सुरेश गोपी
52. एल मुरुगन
53. अजय टम्टा
54. बंडी संजय कुमार
55. कमलेश पासवान
56. भागीरथ चौधरी
57. सतीश चन्द्र दुबे
58. संजय सेठ
59. रवनीत सिंह बिट्टू
60. दुर्गादास उइके
61. रक्षा खडसे
62. सुकांता मजूमदार
63. सावित्री ठाकुर
64. तोखन साहू
65. राजभूषण चौधरी
66. भूपतिराजू श्रीनिवास वर्मा
67. हर्ष मल्होत्रा
68. नीमूबेन बामनिया
69. मुरलीधर मोहोल
70. जॉर्ज कुरियन
71. पबित्रा मार्गेरिटा

जीते फिर भी जगह नहीं मिली

बता दें कि नारायण राणे, परषोत्तम रूपाला और अनुराग ठाकुर जीत के बावजूद मंत्रिमंडल में जगह नहीं बना सके. बता दें निवर्तमान मंत्रिपरिषद में से, भाजपा नेतृत्व ने लोकसभा चुनाव हारने वाले 17 मंत्रियों में से 16 को शामिल नहीं किया है।

पुराने मंत्रिमंडल के प्रमुख चार कैबिनेट मंत्रियों स्मृति ईरानी, ​​आरके सिंह, अर्जुन मुंडा और महेंद्र पांडे को भी जगह नहीं मिली] हालांकि ये सभी इस बार का चुनाव हार गए है।

यहां एकमात्र अपवाद एल मुरुगन थे, जो राज्यसभा सदस्य भी हैं, लेकिन तमिलनाडु की नीलगिरी सीट से लोकसभा हार गए थे फिर भी मंत्री बने है।

गुजरात से दिल्ली तक का सफ़र:

पीएम मोदी का राजनीतिक सफर गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में शुरू हुआ था, जहां उन्होंने विकास और सुशासन के मॉडल को लागू किया। प्रधानमंत्री के रूप में उनका पहला कार्यकाल 2014 में शुरू हुआ, जिसमें उन्होंने स्वच्छ भारत अभियान, जन धन योजना और मेक इन इंडिया जैसे प्रमुख अभियानों को शुरू किया था। साल 2019 में दूसरे कार्यकाल में उन्होंने आर्थिक सुधारों, कोरोना महामारी का मुकाबला और आत्मनिर्भर भारत अभियान पर जोर दिया था। 2024 के आम चुनावों में एनडीए गठबंधन ने एक बार फिर बहुमत हासिल कर सरकार का गठन किया है।

 

Related posts