NDA के मंच पर जयंत चौधरी को नहीं मिली जगह, नाटकीय झूठे सम्मान का भंडाफोड़

बीजेपी, एनडीए, नाटकीय झूठ, डीटीपी नेता चंद्रबाबू नायडू, जयंत चौधरी, समाजवादी पार्टी, राष्ट्रीय लोकदल, BJP, NDA, dramatic lies, DTP leaders Chandrababu Naidu, Jayant Chaudhary, Samajwadi Party, Rashtriya Lok Dal,

नई दिल्ली। बीजेपी के नेतृत्व वाले एनडीए की शुक्रवार को दिल्ली में बैठक बुलाई गई, जिसमें नरेंद्र मोदी को संसदीय दल का नेता चुना गया। इस बैठक की तस्वीरें सामने आई हैं, जिसमें तमाम एनडीए के सहयोगी पीएम मोदी के साथ मंच पर बैठे हैं लेकिन रालोद प्रमुख जयंत चौधरी को मंच पर जगह नहीं दी गई, जिसे लेकर समाजवादी पार्टी ने रालोद पर तंज कसा है।

एनडीए बैठक की जो तस्वीरें सामने आई हैं। उसमें पीएम मोदी के बगल वाली सीट पर डीटीपी नेता चंद्रबाबू नायडू बैठे हैं। उनके साथ नीतीश कुमार, एकनाथ शिंदे, चिराग पासवान, जीतनराम मांझी और अनुप्रिया पटेल बैठे हैं। इनके अलावा पवन कल्याण, अमित शाह, जेपी नड्डा और राजनाथ सिंह भी मंच पर हैं लेकिन, यूपी में दो सीटों जीतने वाली राष्ट्रीय लोक दल के मुखिया जयंत चौधरी सामने की पंक्तियों में बैठे हैं।

जयंत चौधरी पर कसा तंज

समाजवादी पार्टी ने जयंत चौधरी की इन तस्वीरों को सोशल मीडिया पर शेयर करते हुए तंज कसा और कहा कि ‘RLD पार्टी के मुखिया जयंत चौधरी को मंच पर स्थान तक नहीं दिया गया जबकि उनकी 2 सीटें हैं, वहीं 1-1 सीट वाले दलों के नेताओं को मंच पर साथ में बिठाया गया।’

सपा ने आगे कहा कि ‘भाजपा की जाट समाज से नफरत और स्व.चौधरी चरण सिंह एवं चौधरी अजीत सिंह के प्रति नाटकीय झूठे सम्मान का भंडाफोड़ हो गया है। जयंत चौधरी अगर सच में किसान हितैषी हैं तो उन्हें NDA से दूरी बनानी चाहिए और किसान हितों पर भाजपा के खिलाफ आवाज उठानी चाहिए। छोटे और नजदीकी लालच के चक्कर में अपने स्वाभिमान और किसान हितों का सौदा भाजपा से नहीं करना चाहिए।

दरअसल जयंत चौधरी की राष्ट्रीय लोकदल ने यूपी में दो सीटों बिजनौर और बागपत पर जीत दर्ज की है। वहीं अनुप्रिया पटेल की अपना दल सोनेलाल और जीतनराम मांझी की हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा का एक-एक सांसद हैं। इसके बावजूद उन्हें मंच पर जगह दी गई, लेकिन जयंत चौधरी सांसद की लाइन में बैठे हुए दिखाई दिए।

Related posts