अखिलेश यादव होंगे संसदीय दल के नेता, और करहल से देंगे इस्तीफा, शिवपाल को भी मिल सकती है यह बड़ी जिम्मेदारी

सपा प्रमुख अखिलेश यादव, करहल विधानसभा, इस्तीफा, संसदीय दल, शिवपाल यादव, सपा का शानदार प्रदर्शन, यूपी विधानसभा, SP chief Akhilesh Yadav, Karhal Assembly, resignation, parliamentary party, Shivpal Yadav, SP's brilliant performance, UP Assembly,

सपा प्रमुख अखिलेश यादव करहल विधानसभा से इस्तीफा देंगे। अखिलेश यादव अब सपा के संसदीय दल के नेता होंगे। इसके साथ शिवपाल यादव को भी बड़ी जिम्मेदारी मिल सकती है।

लखनऊ। सपा प्रमुख अखिलेश यादव अब यूपी के बजाए राष्ट्रीय राजनीति में अहम भूमिका निभाएंगे। वह पार्टी के संसदीय दल के नेता होंगे। इसका औपचारिक घोषणा दिल्ली में होने वाली पार्टी की संसदीय दल की बैठक में होगी। इसके साथ ही अखिलेश अब कन्नौज से सांसद बने रहेंगे और करहल विधानसभा सीट से इस्तीफा देंगे। दिल्ली में जल्द सपा संसदीय बोर्ड का गठन होगा। लोकसभा में पार्टी के नेता पद पर अखिलेश यादव होंगे। इसके अलावा उपनेता का भी चयन होगा। अखिलेश यादव पहली बार 36 सांसदों संग लोकसभा में बैठेंगे। इसमें चार तो उनके परिवार के भी सदस्य होंगे।

यूपी में सपा का शानदार प्रदर्शन

दरअसल, यूपी में सपा ने शानदार प्रदर्शन करते हुए 37 सीटें हासिल की है। सपा प्रमुख अखिलेश कन्नौज से सांसद चुने गए हैं। इसके पहले वह मैनपुरी के करहल विधानसभा सीट से विधायक चुने गए थे। वर्तमान में वह विधायक हैं। वह विधानसभा में नेता प्रतिविपक्ष की भूमिका में हैं। अब वह करहल से इस्तीफा देकर केंद्र की राजनीति में सक्रिय होंगे।

शिवपाल हो सकते हैं नेता प्रतिपक्ष

सपा प्रमुख अखिलेश के इस्तीफे के बाद यूपी विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष की सीट भी इस कारण खाली होगी। यूपी विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष पद शिवपाल यादव को सौंपा जा सकता है। वह पहले भी नेता प्रतिपक्ष रह चुके हैं। इसके अलावा इंद्रजीत सरोज को वरिष्ठता के आधार पर यह जिम्मेदारी दी जा सकती है। करहल सीट पर उपचुनाव होगा। इसमें सपा अपने पूर्व सांसद तेज प्रताप यादव को प्रत्याशी बना सकती है। इन सब मामलों में जल्द निर्णय होगा।

Related posts