आंवला से बनाएं बेहतरीन माउथ फ्रेशनर, जानिए बनाने की विधि

Health Tips: अगर आपके मुंह से दुर्गंध आती है या आपको अपच की समस्या है तो आप आंवले का सेवन जरूर करें. आंवला खाना पेट के लिए बहुत ही अच्छा होता है. इसे खाने से पेट में गैस नहीं बनती, खाना सही से पचता है और कब्ज की समस्या से भी छुटकारा मिलता है।सिर्फ यह नहीं आंवला खाने से ओरल हेल्थ को भी अच्छा रखा जा सकता है. आप चाहें तो आंवले का माउथ फ्रेशनर भी घर पर बना सकते हैं। दरअसल बबाजार में म‍िलने वाले माउथ फ्रेशनर में एक्‍सट्रा शुगर म‍िलाई जाती है ज‍िससे शरीर में ब्‍लड शुगर लेवल बढ़ जाता है और सेहत भी खराब होती है. आंवले में एंटीऑक्‍सीडेंट गुण मौजूद होते हैं। इसका रोजाना सेवन करने से दांत हेल्‍दी रहते हैं और बालों की ग्रोथ भी अच्‍छी होती है. साथ ही मुंह से दुर्गंध भी नहीं आती है। आइए आपको बताते हैं कि किस तरह से आंवले का माउथ फ्रेशनर आपके ओरल हेल्थ को अच्छा रख सकता है और इसे घर पर कैसे बनाया जा सकता है।

मुंह की बदबू दूर करता है आंवले का माउथ फ्रेशनर
अगर आपके मुंह से बदबू आती है तो आप घर पर बने आंवले के माउथ फ्रेशनर का सेवन कर सकते हैं. आंवले में एंटीऑक्‍सीडेंट्स के गुण होते हैं । इसका सेवन करने से मुंह की दुर्गंध से छुटकारा म‍िलेगा और शरीर में एनर्जी भी महसूस करेंगे । आंवला गर्मि‍यों के द‍िनों में बाजार में नहीं म‍िलता है इसल‍िए आप इसके माउथ फ्रेशनर को स्‍टोर करके भी रख सकते हैं । आंवले का सेवन करने से इम्‍यून‍िटी स्ट्रॉन्ग होती है और लोग कम बीमार पड़ते हैं. अपच या पेट में गैस की समस्‍या को दूर करने के ल‍िए भी आंवले का माउथ फ्रेशनर काफी फायदेमंद होता है।

इसे कभी भी और कहीं भी कैरी कर सकते हैं. कई बार सफर के दौरान पेट से जुड़ी समस्‍या हो जाती है ज‍िसे दूर करने के ल‍िए आप इसका सेवन कर सकते हैं. आंवले का सेवन करने से आंखें भी हेल्दी रहती हैं । साथ ही आंवला स्किन और बालों के लिए काफी अच्छा होता है. आप चाहें तो आंवले के माउथ फ्रेशनर के साथ साथ आंवले का मुरब्‍बा या आंवले का आचार भी खा सकते हैं. ये शरीर को बीमारियों से दूर रखते हैं ।

सामग्री

आंवला
म‍िश्री
भुना जीरा पाउडर
अमचूर पाउडर
काली म‍िर्च पाउडर
काला नमक

आंवले का माउथ फ्रेशनर बनाने की विधि

500 ग्राम आंवला लें और उसे धोकर एक बर्तन में रखें। अब बर्तन में पानी भरें और आंवले को उबाल लें।
-आंवले को उबालने के बाद उसकी फांक अलग कर लें। फांक अलग करने के बाद बर्तन से सारा पानी न‍िकाल दें।
-आंवले को साफ बर्तन में अलग कर लें। आंवले में आप 500 ग्राम म‍िश्री का पाउडर म‍िलाकर रख दें।
-उसे ढककर आप रख दें, उसके बाद शाम तक आंवला पानी छोड़ देगा। उसके बाद आंवले का पानी न‍िकालकर ढककर रख दें।
-दो से तीन द‍िन तक यही प्रक्र‍िया अपनाएं, फ‍िर उसे छान लें ज‍िससे एक्‍ट्रा पानी न‍िकल जाएगा।
-भुना जीरा पाउडर, अमचूर पाउडर, काली म‍िर्च पाउडर, काला नमक म‍िलाएं।
-म‍िश्रण को अच्‍छी तरह से चलाकर एयरटाइट कंटेनर में रख दें, मुखवास तैयार है।

 

Related posts